पीजीपी के बारे में

पीजीपी के बारे में

पीजीपी के बारे में

प्रबंधन में दो वर्ष पूर्णकालिक आवासीय पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम (पीजीपी) भा.प्र.सं.ना. का प्रमुख कार्यक्रम है।

कार्यक्रम का उद्देश्य दृढ़ संकल्पनात्मक नींव और विश्लेषणात्मक बारीकियों के साथ सामाजिक-आर्थिक संदर्भ की ठोस समझ वाले लीडर, प्रबंधक और उद्यमियों का सृजन करना है। कार्यक्रम विद्यार्थियों को पेशेवर उत्कृष्टता और आत्म-विकास प्राप्त करने के लिए चुनौतियों का सामना करने के अवसर प्रदान करता है।

पीजीपी को नेतृत्व की भूमिका के लिए विद्यार्थियों को तैयार करने के एक दृष्टिकोण के साथ डिजाइन किया गया है। उनके द्वारा चयनित कार्य क्षेत्र से परे – चाहे वह व्यवसाय हो, गैर-सरकारी संगठन हो, सरकारी संस्थान हो या सामाजिक परिवर्तन, यह विद्यार्थियों को उत्कृष्टता और उच्च नैतिक मानकों के प्रति अभिविन्यास के साथ उत्कृष्ट पेशेवर बनाता है।

इस कार्यक्रम में पाठ्यक्रम में व्याख्यान का एकीकरण, कक्षा चर्चा, मामलों का अध्ययन, व्यक्तिगत और समूह परियोजनाएं, सत्र पत्र, भूमिका निर्वाह, व्यापार खेल, आदि शामिल हैं।

एक वर्ष में तीन सत्रों के अलावा, पीजीपी कार्यक्रम में पहले वर्ष के पूरा होने पर अंतर्राष्ट्रीय निमग्रता भी शामिल है, एक क्षेत्र निमग्रता और ग्रीष्म अंतःशुक्षुता जो मिलकर वैचारिक और महत्वपूर्ण तर्कशक्ति का आधार रखती है। यह विद्यार्थियों को कारोबारी माहौल की गतिशीलता की जानकारी प्रदान करते हैं।