एफएक्यू

एफएक्यू

एफएक्यू

यह पाया गया है कि बहुत से उम्मीदवार आईआईएम प्रवेश प्रक्रिया के आरंभिक स्तरों के जोखिम को कम करने के लिए सीएटी आवेदन पत्र में बहुत सी संस्थाओं का नाम दे देते हैं। प्रवेश प्रक्रिया आगे बढ्ने पर इन में से कुछ संस्थाओं में उनकी रुचि नहीं रहती।

भा.प्र.सं. नागपुर में प्रवेश प्रक्रिया तुलनात्मक रूप से कम समय में पूरी कर ली जाती है, इसलिए उम्मीदवारों की रुचि की पुन: पुष्टि की जाती है।

नहीं। भा.प्र.सं. नागपुर में अपनी रुचि की पुष्टि करने के बाद अन्य आईआईएम में आपकी स्थिति प्रभावित नहीं होगी।

हाँ, लेकिन यदि आपको भेजी गई ई मेल के उत्तर में आपने अपनी रुचि की पुष्टि की है। यह ई मेल केवल उन्हीं को भेजी जाती है जिनके नाम वेब साइट पर कट ऑफ अंक प्राप्त करने वालों की सूची में होते हैं।

सीएटी का फॉर्म भरते समय आपको भा.प्र.सं. नागपुर का चयन करना होगा, तभी आपको सीएटी में कट ऑफ अंक प्राप्त करने पर स्तर 1 के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा।

विस्तृत जानकारी के लिए कृपया नीचे दर्शाए गए लिंक देखें:

https://www.iimnagpur.ac.in/programmes/post-graduate-programme/admissions/domestic/domestic-admissions-policy/

यदि आप एससी/एसटी/पीडब्लूडी श्रेणी से हैं तो भारत सरकार नियमों के अनुसार आपको 5% की छूट मिल सकती है।

सभी स्तरों पर यह पूर्णतया आपके द्वारा प्राप्त अंकों पर निर्भर करेगा।

सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद विद्यार्थियों को मास्टर ऑफ बिज़नस एड्मिनिस्ट्रेशन की डिग्री दी जाती है।

पीजीपी के लिए प्रवेश प्रक्रिया का विस्तृत ब्योरा नीचे दी गई वेब साइट में दिया गया है

https://www.iimnagpur.ac.in/programmes/post-graduate-programme/admissions/domestic/domestic-admissions-policy/

कृपया यह सुनिश्चित करें कि आपका पूरा ब्योरा, जैसे: जन्मतिथि, शैक्षिक योग्यताएँ (डिग्रीयां आदि) और कार्य का अनुभव आदि सब सही भरा हो। यह भी ध्यान में रखें कि ऑनलाइन आवेदन पत्र में दिए गए सब ब्योरों के संबंध में बाद में दस्तावेजी साक्ष्य देना होता है। यदि आपके द्वारा दिया गया ब्योरा आपके दस्तावेजों से भिन्न पाया जाता है तो प्रवेश (यदि होता है तो) स्वत: निरस्त हो जाएगा।

यदि डिग्री प्रमाणपत्र में प्रतिशतता/सीजीपीए निर्दिष्ट नहीं की गई है तो प्रत्येक वर्ष की प्राप्त अंकों की प्रतिशतता/सीजीपीए की गणना समग्र प्रतिशतता/सीजीपीए होगी।

आप से संबन्धित सभी दस्तावेज़; जैसे: शैक्षिक अर्हता, कार्य अनुभाव और श्रेणी प्रमाणपत्र (यदि लागू हो)

यह आवश्यक है कि आप दस्तावेजी साक्ष्य प्रस्तुत करें। यदि आपके पास अनुभव का पत्र नहीं है तो आप नियुक्ति पत्र जैसा कोई उपयोगी दस्तावेज़ प्रस्तुत कर सकते हैं। अत: इस जानकारी के संबंध में कोई दस्तावेजी साक्ष्य आवश्यक है।

हम आपकी कंपनी द्वारा जारी कार्य अनुभव प्रमाणपत्र को मान्यता देते हैं जिसमें अंतर्राष्ट्रीय कार्य अनुभव की तारीखें निर्दिष्ट होती हैं। कृपया नोट करें कि कंपनी द्वारा किसी सम्मेलन/ बैठकों/ कार्यशालाओं अथवा कारोबारी दौरे के लिए आपको विदेश भेजे जाने की अवधि की गणना इस अंतर्राष्ट्रीय कार्य अनुभव में नहीं होगी। किसी विदेशी स्थान (आपके अपने देश से भिन्न) में वैध दस्तावेजों के आधार पर पूर्णकालिक कार्य को ही अंतर्राष्ट्रीय कार्य अनुभव माना जाएगा जिसमें वेतन/अन्य भत्तों सहित ऑफर पत्र/ नियुक्ति पत्र संलग्न किया हो।

आपके द्वारा स्वीकरण ऑफर की पुष्टि के बाद ब्योरा आपके पंजीकृत आईडी पर ईमेल कर दिया जाएगा।

If you are shortlisted, you will receive an email to your CAT registered email Id

नहीं। साक्षात्कार के लिए भा.प्र.सं. नागपुर की अपनी अलग प्रक्रिया है, और हम अन्य आईआईएम से कोई अंक नहीं लेते हैं।

भा.प्र.सं. नागपुर का 2020-22 बैच के लिए दो वर्ष का पीजीपी शुल्क 13.5 लाख रु (लगभग) होगा। इस राशि में जमानत जमा और भोजन गृह जमा आदि शामिल नहीं हैं। इस संबंध में वास्तविक राशि और उसका अलग अलग ब्योरा प्रवेश ऑफर में दिया जाएगा। सभी अग्रणी बैंक समान्यतया भारत सरकार के निदेशों के अनुसार भा.प्र.सं. नागपुर सहित सभी आईआईएम के लिए रियायती दरों पर शैक्षिक ऋण देते हैं।

वास्तविक राशि और भुगतान के तरीके का ब्योरा प्रवेश के ऑफर के साथ भेजा जाएगा। समान्यतया यह राशि 50,000/- रु. होती है। यह राशि भविष्य में शिक्षा शुल्क के लिए किए जाने वाले भुगतान में समायोजित कर ली जाएगी। यदि कोई व्यक्ति संस्थान में प्रवेश नहीं लेता है तो भारत सरकार के नियमों के अनुसार कुछ राशि रखकर बाकी लौटा दी जाएगी।

विस्तृत जानकारी के लिए नीचे दर्शाया हुआ लिंक देखें:

https://www.iimnagpur.ac.in/programmes/post-graduate-programme/admissions/domestic/fees-financial-aid-scholarship/

भा.प्र.सं. नागपुर अपने छठे बैच के लिए शैक्षिक सत्र जून 2020 के अंतिम सप्ताह में शुरू करेगा।

फिलहाल भा.प्र.सं. नागपुर वीएनआईटी नागपुर के परिसर में ही कार्यरत है। यह संस्थान नागपुर शहर के पश्चिमी भाग में है; यह नागपुर रेलवे स्टेशन से 7किमी और हवाई अड्डे से 6.5 किमी की दूरी पर है।

सभी विद्यार्थियों को हॉस्टल में आवास उपलब्ध कराया जाता है क्योंकि यह आवासीय कार्यक्रम है। विद्यार्थियों को अकेले रहने के लिए कमरे उपलब्ध कराए जाते हैं। संस्थान के कमरों में पर्याप्त फर्नीचर उपलब्ध है और वहाँ मनोरन्जन/ स्वस्थता केंद्र/जिम, खेलकूद इत्यादि की भी व्यवस्था है।

आप बहुत बढ़िया स्थान पर होंगे, जहां पूरे परिसर में वाईफाई होगा और उद्योग के साथ साथ जानकारी का भरपूर डाटाबेस, ई मेल और इंटरनेट भी उपलब्ध होगा। पुस्तकालय में इबीएस सीओ बिसनेस सोर्स प्रोकुएस्ट ई बुक सेंट्रल, एसीई नॉलेज पोर्टल, एसीई इक्विटि और एमफ 2, गर्ट्नर, प्रौएसडीएक्स, प्रोएसआईक्यू के साथ साथ इंडिया स्टैट जैसे डेटाबेस प्राप्त करने की सुविधा भी होगी।

उद्योग में स्नातकों के लिए स्वीकार्यता बढ़ रही है। भा.प्र.सं. नागपुर अपने विद्यार्थियों को सीधे प्रोजेक्ट्स,फील्ड इमरशन, इन्टरन्शिप और प्रोजेक्ट कोर्सेस के माध्यम से से उद्योग से जोड़ता है। भा.प्र.सं. नागपुर के पास पहले ही वर्ष में मजबूत फील्ड इमरशन मोड्यूल (एफआईएम) उपलब्ध है। इससे विद्यार्थियों को शुरू में ही कई वास्तविकताओं और समस्याओं का पता चलता है और जो वे कक्षा में पढ़ते हैं, उन्हें वास्तविक रूप में समझने का मौका मिलता है। हमने अपने विद्यार्थियों को कई क्षेत्रों में समर इन्टरन्शिप और विख्यात संगठनों में स्थान दिलाया है। आईआईएमएन की प्लेसमेंट रेपोर्ट्स नीचे दिए लिंक में देखी जा सकती हैं:

https://www.iimnagpur.ac.in/programmes/post-graduate-programme/placements/placement-reports/

आप वर्तमान विद्यार्थियों से विभिन्न सोशल मीडिया प्लैटफ़ार्म पर संस्थान में इस क्षेत्र में काम करने वाले स्टाफ के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।

नहीं, यह पूर्णकालिक आवासीय कोर्स है।

पीजीपी एक सामान्य प्रबंधन कार्यक्रम है जो विद्यार्थियों को उच्च प्रबंधन के लिए तैयार करता है। हालांकि आप अपनी आवश्यकताओं के अनुसार कार्यक्रम बना सकते हैं। पीजीपी के बाद के नियोजन के लिए विस्तृत क्षेत्र उपलब्ध रहता है। इस प्रकार आप सभी सामान्य प्रबंधन कौशल सीख सकते हैं और अपने वर्तमान और भविष्य के लक्ष्य प्राप्त करने के लिए आवश्यक कौशल और विशेषज्ञता प्राप्त कर सकते हैं।

दोनों वर्षों में 2.0 से अधिक सीजीपीए तथा पहले वर्ष में 12 डीसीपी और 18 (प्रथम और द्वितीय वर्ष को मिलाकर)

पीजीपी में विभिन्न उद्योग-शैक्षिक लेनदेन के निम्नानुसार बहुत से अवसर हैं:
क) फील्ड इमर्शन मोड्यूल – पीजीपी के प्रथम वर्ष का एक अनोखा और आवश्यक घटक, जो विद्यार्थियों को संगठनों के साथ काम करने, अपनी जानकारी का उपयोग करने और अनुभव से सीखने का अवसर देता है।
ख) इल्यूम – उद्योग-संस्थान विचार विमर्श मंच भा.प्र.सं. नागपुर का एक विशेष कार्यक्रम है।
ग) विद्यार्थी क्लब और उद्योग, सरकार और गैर सरकारी संगठनों के प्रोजेक्ट।
घ) वक्ता शृंखलाएँ- जहां पीजीपी विद्यार्थी अपने कैम्पस में उद्योग और सरकार के प्रमुख नेताओं को आमंत्रित करते हैं।

भा.प्र.सं. नागपुर के विद्यार्थियों ने टेल एविव विश्वविद्यालय, इस्राइल; एशियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालजी, थायलैंड और इंस्टीटूटो टेक्नोलोजिको ऑटोनोमा मेक्सिको (आईटीएएम)के साथ विनिमय कार्यक्रमों में भाग लिया है। हम अपने इस कार्यक्रम का विस्तार करना चाहते हैं और विख्यात अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालयों और प्रबंधन विद्यालयों के साथ संभावित विनिमय कार्यक्रमों के इच्छुक हैं।

हाँ, विद्यार्थियों के लिए भा.प्र.सं. नागपुर में आईआईपी वैकल्पिक है। यह द्वितीय वर्ष में चयनित पाठ्यक्रम के रूप में दिया जाता है। पिछले वर्षों में विद्यार्थियों ने जापान, सिंगापूर, फ़्रांस, दुबई और साउथ कोरिया के दौरे किए हैं।

विद्यार्थियों की विभिन्न गतिविधियां नीचे दिए लिंक में देखी जा सकती हैं:

https://www.iimnagpur.ac.in/student-activities/recent-achievements/

ये विभिन्न प्रकार के शैक्षिक क्लब, गैर शैक्षिक क्लब और समितियां हैं, इनके बारे में नीचे देखा जा सकता है:

https://www.iimnagpur.ac.in/student-activities/clubs-and-committees/

भा.प्र.सं. नागपुर में विद्यार्थियों को उनके अपने शिक्षक और आईआईएमए, आईआईएमबी और उद्योग से आमंत्रित शिक्षक पढ़ाते हैं। अत: आप देखेंगे कि देश के सर्वोत्तम शिक्षक भा.प्र.सं. नागपुर में पढ़ाते हैं।

अभी भी यदि आपका कोई प्रश्न अनुत्तरित है या किसी स्पष्टीकरण के लिए आप हमें admissionsupport@iimnagpur.ac.in.पर ई मेल कर सकते हैं।