फीस, वित्तीय सहायता और छात्रवृत्ति

फीस, वित्तीय सहायता और छात्रवृत्ति
/कार्यक्रम/पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम/प्रवेश/प्रवासी/फीस, वित्तीय सहायता और छात्रवृत्ति

फीस, वित्तीय सहायता और छात्रवृत्ति

वर्ष 2020-22 के पीजीपी बैच के लिए दो वर्ष की कुल फीस निम्नानुसार होगी:

  • सार्क देशों के लिए: 20,000 6यू एस डॉलर
  • अन्य देशों के लिए: 30,000 यू एस डॉलर

6यह केवल उन्हीं पर लागू होगा जो आवेदन करने के समय अफगानिस्तान, बंगलादेश, भूटान, नेपाल, मालदीव्स, पाकिस्तान और श्रीलंका में रहते हों।

फीस का भुगतान उस समय की विनिमय दर के हिसाब से होगा। 23.10.2019 को 1यूएस डॉलर =70.92 भारतीय रुपये यह दर है । उक्त फीस का भुगतान दो वर्ष में छ: सत्रों में चरणबद्ध रूप से किया जाएगा। फीस में शिक्षण, पुस्तकालय, इंटरनेट, केस से संबन्धित रॉयल्टी, पाठ्यक्रम की सामग्री, हॉस्टल के कमरे का किराया, चिकित्सा बीमा और दुर्घटना बीमा शामिल होगा। जमानत की राशि का भुगतान पंजीकरण के समय एक बार करना होगा। रहने के दौरान रहने से संबन्धित तथा अन्य व्यय का भुगतान भारतीय रुपए में करना होगा जो इस भुगतान से अलग होगा और यह खाने के चुनाव और अन्य वरीयताओं के अनुसार 5,000/- रु से 6,000 रु प्रतिमाह के बीच होगा।

वार्षिक फीस में यात्रा, कपड़े, पाठ्य सामग्री, कैंटीन और लौंड्री का व्यय शामिल नहीं है। कैम्पस में रहने की व्यवस्था कमरे में अकेले रहने की होगी।

भुगतान का प्रकार

एप्लिकेशन फीस, ऑफर स्वीकार करने की फीस और पाठ्यक्रम फीस का भुगतान वायर ट्रान्सफर द्वारा किया जाए। फीस भेजने संबंधी जानकारी निम्नानुसार है:

तालिका : भा.प्र.सं. नागपुर की बैंक संबंधी जानकारी

ब्योरा जानकारी
हिताधिकारी का नाम भारतीय प्रबंध संस्थान नागपुर
खाते का स्वरूप बचत खाता
बैंक की खाता संख्या 3124101005686
बैंक का नाम केनरा बैंक
शाखा का नाम और पता वीएनआईटी कैम्पस, नागपुर
स्विफ्ट संख्या CNRBINBBFXN
एमआईसीआर कोड 440015013
आईएफएससी कोड CNRB0003124

बैंकों और वित्तीय संस्थाओं से ऋण की उपलब्धता
वित्तीय संस्थान और वाणिज्य बैंक ब्याज की रियायती दरों पर विद्यार्थियों को ऋण देते हैं।

छात्रवृत्ति
भारत में अध्ययनरत विदेशी विद्यार्थियों को भारत सरकार कई स्कॉलर्शिप देती है। विदेश मंत्रालय, भारत सरकार सार्क देशों से आए उन विद्यार्थियों को स्कॉलर्शिप प्रदान करती है जो भारत में रह कर पढना चाहते हैं। इस बारे में जानकारी मंत्रालय की कार्यालयीन वैबसाइट या संबन्धित देश में भारत के दूतावास की वैबसाइट से प्राप्त की जा सकती है। इन स्कॉलर्शिप के लिए आवेदन करने और उनका लाभ लेने में संस्थान उनकी मदद करेगा।