वर्तमान उपलब्धियां

recent_achivement_banner
/स्टूडेंट एक्टीविटीस/वर्तमान उपलब्धियां

वर्तमान उपलब्धियां

हमारे पास उदार दृष्टिकोण है, हमारे संचार अनौपचारिक हैं, लेकिन हम नैतिकता पर समझौता करने से इंकार करते हैं। हम, भा.प्र.सं. नागपुर के विद्यार्थियों को, राय लेने और अपना स्वतंत्र निर्णय लेने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। कदम से कदम, हम अपने लिए एक जगह बना रहे हैं, जो ‘उत्कृष्टता’ है।

भा.प्र.सं. नागपुर विद्यार्थी हमेशा नई पहल, सह-पाठ्यचर्या के साथ ही बहिर्वाहिक गतिविधियों के बारे में उत्साहित हैं। हम विद्यार्थी विद्यार्थियों और संस्थान से संबंधित सभी निर्णयों में सक्रिय प्रतिभागी हैं। क्लबों, मंचों और कार्यक्रमों के माध्यम से, विद्यार्थियों को अनौपचारिक संकाय-विद्यार्थी बातचीत, सामुदायिक सेवा, सामाजिक कल्याण, आदि जैसे अन्य सामाजिक सद्भाव का अवसर मिलता है।

कठोर शैक्षिक प्रशिक्षण के साथ, हमें अभिनव सह-पाठ्यचर्या और बहिर्वाहिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। परिसर के बाहर विभिन्न प्रतियोगिताओं, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं और गतिविधियों में भागीदारी हमें नेतृत्व के गुणों और समूह नैतिकता अनुभव के विकास में मदद करती है। हमने सर्वोत्तम बिजनेस स्कूलों से प्रतिस्पर्धा की है और कई प्रतियोगिताएं जीती हैं।

IIMN Students Make a Mark at RanBhoomi, IIM Indore

IIMN Students Make a Mark at RanBhoomi, IIM Indore

PGP students of IIM Nagpur participated in the Annual Sports Fest of IIM Indore, Ranbhoomi, where they brought laurels and made the IIM Nagpur community proud. Winners across sporting events are as follows:
  • Table Tennis (Women) Silver Medal: Sadhana S
  • Badminton (Women Singles) Semi-Finalist: Krati Sharma
  • Volleyball (2nd in Pool)
IIM Nagpur Students Win Regionals at Tata Crucible Campus Quiz

IIM Nagpur Students Win Regionals at Tata Crucible Campus Quiz

Rishav Raj and Aditya Prakash from PGP18-20 were adjudged Regional Winners Nagpur at the Tata Crucible Campus Quiz. The team has now qualified for the Zonal finals to be conducted at Hyderabad where they would be competing with other Regional Winners for a position in the National Finals.
Raghav Bharadwaj (PGP 2019-21) Clears CFA Level 1

Raghav Bharadwaj (PGP 2019-21) Clears CFA Level 1

Raghav Bhardwaj, a student of the Post Graduate Programme (Batch of 2019-21) cleared Level 1 of the Chartered Financial Analyst (CFA) Exam. Hearty congratulations to Raghav on his achievement.
IIMN Students Make a Mark at Fusionen Meister, IIM Trichy

IIMN Students Make a Mark at Fusionen Meister, IIM Trichy

Srikar Maddula, Ayushman Banerjee and Ajith Saparey of the PGP Batch of 2019-21 finished second at the event Fusionen Meister 2020 organized by IIM Trichy. The three-round event, conducted by the Finance and Investment Cell, consisted of an online quiz, a midcap company stock research and valuation, and the final round, held on-campus at IIM Trichy, wherein participants made a presentation on the stock valuation and recommendation for chosen organizations. The team from IIM Nagpur stood second among 886 teams that participated in the competition from all over the country. Our congratulations to the winners!
बोनजोर इंडिया 2017 हाउस ऑफ द मून

बोनजोर इंडिया 2017 हाउस ऑफ द मून

प्राचीन फ्रांसीसी इमारतों को बहाल करने के प्रयास में, फ्रांसीसी दूतावास और इंस्टिट्यूट फ्रांसिस ने एटीए आर्किटेक्चर के संस्थापक ऐश्वर्या टिपनिस द्वारा आयोजित अपने 'इंडो-फ्रांसीसी विरासत परियोजना को जानें' के माध्यम से भा.प्र.सं. नागपुर के विद्यार्थियों  से परामर्श लिया। भा.प्र.सं. नागपुर के विद्यार्थी (ओमश्री सावंत, श्रीराम सखारी, विश्वनाथ शारबू, गौरव अग्रवाल) चन्द्रनागोर गए, वह शहर जहाँ फ्रेंच औपनिवेशिक साम्राज्य और फ्रेंच इमारतों अवशेष मौजूद हैं। भा.प्र.सं. के छात्र, प्रत्येक ने जादवपुर विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों  के समूह और कन्फ्लुएंशन, लियोन से आर्किटेक्चर स्कूल का नेतृत्व किया। समूहों ने छत-विछत रजिस्ट्री इमारतों के लिए टिकाऊ समाधान प्रस्तुत किए और भा.प्र.सं. विद्यार्थियों  ने रेस्तरां, रेस्तरां, अस्पताल और पुस्तकालय के चार टिकाऊ समाधानों के एक व्यापार मॉडल में बदल दिया जो चन्द्रनागोर समुदाय के प्रतिष्ठित व्यक्तियों के सममक्ष प्रस्तुत किए गए।
यस बैंक ट्रांसफार्मेशन श्रृंखला – 2017

यस बैंक ट्रांसफार्मेशन श्रृंखला – 2017

यस बैंक ट्रांसफॉर्मेशन सीरीज दुनिया भर में बी-स्कूल के विद्यार्थियों  के लिए भारत की सबसे बड़ी केस स्टडी प्रतियोगिता में से एक है। इसमें फिन्टेक क्षेत्र के मुद्दों को संबोधित करने वाली चार अलग-अलग केस स्टडी सीरीज़ शामिल थी। भा.प्र.सं. नागपुर की टीम में प्रसन्ना धारकर, समीर भजनी और सौरभ पाटिल शामिल थे जो इंटेलिप केस स्टडी के विजेता रहे जो देश भर की 26850 प्रतिभागियों में से शीर्ष 50 टीमों में से एक थे।
रिलायंस – द अल्टीमेट पिच 3.0

रिलायंस – द अल्टीमेट पिच 3.0

भा.प्र.सं. नागपुर की टीम प्लेनेटीअर्स में समीर भजन, सौरभ पाटिल और प्रसन्ना धारकर शामिल थे जो अल्टीमेट पिच 3.0, जोन 4 के विजेता बने और राष्ट्रीय स्तर के फाइनल हेतु चुने गए। द अल्टीमेट पिच उद्यमिता की भावना का उत्सव मनाने के लिए स्ट्रैटेजिक एलिवेटर पिच प्रतियोगिता है और इसमें सभी क्षेत्रों में लगभग 40 प्रमुख बिजनेस स्कूल शामिल थे।
टाटा क्रूसिबल – कैंपस क्विज़ – 2018

टाटा क्रूसिबल – कैंपस क्विज़ – 2018

भा.प्र.सं. नागपुर के विद्यार्थी करीम बेग और शिखर भारद्वाज ने नागपुर में आयोजित टाटा क्रूसिबल - द कैंपस क्विज़ - 2018 में क्षेत्रीय उपविजेता का स्थान सुरक्षित किया। टाटा क्रूसिबल - बिजनेस क्विज भारत के सबसे तेज युवा कॉर्पोरेट मस्तिष्कों को भारत की सबसे कठिन युवा प्रश्नोत्तरी का सामना करने के लिए आमंत्रित करता है। टाटा समूह अपने संचार को युवाओं पर केंद्रित कर रहा है जो एक प्रमुख प्रमुख वर्ग है और टाटा क्रूसिबल इस पहल की दिशा में महत्वपूर्ण पहलों में से एक है। भा.प्र.सं. नागपुर के विद्यार्थियों  ने इसके पिछले संस्करणों में भी क्षेत्रीय स्तर पर पुरस्कार हासिल किए थे।
आरबीआई नीति चुनौती 2018

आरबीआई नीति चुनौती 2018

प्रो दीपार्घ्य मुखर्जी के मार्गदर्शन मे भा.प्र.सं. नागपुर की टीम , जिसमें ऋषव राज, जेसन डी 'सिल्वा, कुशल गंगार और यश ठाकुर शामिल थे, इन्होंने आरबीआई नीति चुनौती 2018 के राष्ट्रीय दौर में द्वितीय पुरस्कार प्राप्त किया| टीम जोनल और क्षेत्रीय राउंड जीतकर राष्ट्रीय दौर में पहुंची जिसमें भा.प्र.सं. अहमदाबाद, भा.प्र.सं. इंदौर, भा.प्र.सं. रायपुर और टीआईएसएस मुंबई जैसे कई प्रमुख संस्थानों ने भाग लिया। टीम ने देश के प्रतिष्ठित शैक्षिक संस्थानों के 216 प्रारंभिक प्रतिभागियों से प्रतिस्पर्धा कर फाइनल में पहुँची। टीम को 'उन्नत अर्थव्यवस्थाओं में सामान्यीकरण - भारत के लिए प्रभाव।' नामक विषय दिया गया था और उन्होंने संजीन सान्याल, प्रिंसिपल इकोनॉमिक एडवाइजर; प्रजुल भंडारी, मुख्य भारत अर्थशास्त्री, एचएसबीसी; और अमर्त्य लाहिरी, निदेशक, सीएएफआरएएल, मुंबई सरकार सहित एक प्रतिष्ठित जूरी के समक्ष मौद्रिक-और तरलता-संबंधी सुझाव प्रस्तुत किए|